चेतावनियों

 

यह पुस्तक नि: शुल्क है और किसी भी तरह से वाणिज्य का स्रोत नहीं गठित करना सकती है।

 

आप अपने उपदेशों के लिए, या वितरण के लिए, या सोशल मीडिया पर अपने सुसमाचार प्रचार के लिए भी इस पुस्तक की प्रतिलिपि बनाने के लिए स्वतंत्र हैं, बशर्ते कि इसकी सामग्री किसी भी तरह से संशोधित या परिवर्तित न हो, और यह कि साइट mcreveil.org को स्रोत के रूप में उद्धृत किया गया हो।

 

तुम पर हाय, लालची शैतान एजेंट जो इन शिक्षाओं और गवाहियों को बाजार में लाने की कोशिश करेंगे!

 

तुम पर हाय, शैतान के बेटे जो वेबसाइट के पते को छिपाते हुए इन शिक्षाओं और इन गवाहियों को सोशल नेटवर्क पर प्रकाशित करना पसंद करते हैं www.mcreveil.org, या उनकी सामग्री को गलत ठहराते हैं!

 

जान लो कि तुम मनुष्यों की न्याय प्रणाली से बच सकते हो, लेकिन तुम निश्चित रूप से परमेश्वर के न्याय से नहीं बचोगे।

 

हे सांपो, हे करैतों के बच्चों, तुम नरक के दण्ड से क्योंकर बचोगे? मत्ती 23:33

 

प्रिय पाठकों,

 

यह पुस्तक नियमित रूप से अपडेट की जाती है। हम आपको सलाह देते हैं कि आप वेबसाइट पर अप-टू-डेट संस्करण डाउनलोड करें www.mcreveil.org।

 

हम आपको सूचित चाहेंगे कि यह शिक्षण अंग्रेजी और फ्रेंच में लिखा गया था। और इसे अधिक से अधिक लोगों तक उपलब्ध कराने के लिए, हमने इसे अन्य भाषाओं में अनुवाद करने के लिए कंप्यूटर सॉफ़्टवेयरों का उपयोग किया।

 

यदि आप अपनी भाषा में अनुवादित पाठ में त्रुटियों का पता लगाते हैं, तो कृपया हमें सूचित करने में संकोच न करें ताकि हम उन्हें सही कर सकें। और यदि आप परमेश्वर का सम्मान करना चाहते हैं और शिक्षाओं को अपनी भाषा में अनुवाद करके परमेश्वर के कार्य को आगे बढ़ाना चाहते हैं, तो बेझिझक हमसे संपर्क करें।

 

खुश पढ़ने!

 

मसीह के सैनिकों को संदेश

(अद्यतन किया गया दिनांक: 14 06 2024)


1- परिचय


प्रिय भाइयों और प्रिय दोस्तों, अंत के समय के इन क्षणों में, जब हमारे पास शहरपनाह के पुनर्निर्माण के लिए केवल थोड़ा समय बचा है, तुरही की आवाज़ से पहले, हमें परमेश्वर के सभी सच्चे सैनिकों से अपील करना महत्वपूर्ण लगता है, और सभी कपटियों और झूठे जो खुद को परमेश्वर के सच्चे सैनिकों के रूप में पारित करते हैं, ताकि हर कोई अपने पदों पर पुनर्विचार कर सके, और यह कि हर कोई स्पष्ट रूप से अपनी पसंद प्रतिज्ञान करना और पुष्टि करता है, प्रकाशितवाक्य 22:10-15 में यीशु के निर्देशों के अनुसार, "10फिर उस ने मुझ से कहा, इस पुस्तक की भविष्यद्ववाणी की बातों को बन्द मत कर; क्योंकि समय निकट है॥ 11जो अन्याय करता है, वह अन्याय ही करता रहे; और जो मलिन है, वह मलिन बना रहे; और जो धर्मी है, वह धर्मी बना रहे; और जो पवित्र है, वह पवित्र बना रहे। 12देख, मैं शीघ्र आने वाला हूं; और हर एक के काम के अनुसार बदला देने के लिये प्रतिफल मेरे पास है। 13मैं अलफा और ओमिगा, पहिला और पिछला, आदि और अन्त हूं। 14धन्य वे हैं, जो अपने वस्त्र धो लेते हैं, क्योंकि उन्हें जीवन के पेड़ के पास आने का अधिकार मिलेगा, और वे फाटकों से हो कर नगर में प्रवेश करेंगे। 15पर कुत्ते, और टोन्हें, और व्यभिचारी, और हत्यारे और मूर्तिपूजक, और हर एक झूठ का चाहने वाला, और गढ़ने वाला बाहर रहेगा॥"


2- उन लोगों को संदेश जो परमेश्वर के काम को करने के लिए शर्तें निर्धारित करते हैं


प्रिय दोस्तों, तुम जो परमेश्वर के काम को करने में संलग्न होने का दावा करते हो, और जो ऐसा करने में, कार्य उपकरण या तो मांग करने के लिए चतुराई का उपयोग, या इस या उस कारण के लिए सामग्री या वित्तीय सहायता, या एक पारिश्रमिक जो उसका नाम नहीं कहता है, यहां आपके लिए परमेश्वर का संदेश है।


सबसे पहले: आपके लिए यह समझने का समय है कि हर आदमी जो परमेश्वर की सेवा करता है वह अपने भले के लिए करता है। परमेश्वर की सेवा करने में, यह हमारी आशीषें हैं जिन्हें हम खोजते हैं, परमेश्वर के उन नहीं। परमेश्वर को अब आशीषें की जरूरत नहीं है, वह पहले से ही धन्य है। जब हम परमेश्वर के लिए काम करते हैं, तो यह हमारे मुकुट हैं जिन्हें हम खोजते हैं, परमेश्वर के उन नहीं। परमेश्वर को अब मुकुट की आवश्यकता नहीं है, उसके पास पहले से ही है। परमेश्वर की सेवा के लिए अपनी शारीरिक शक्ति, अपना पैसा और अपनी तोड़े का निवेश करके, यह हमारा खजाना है जिसे हम एकत्र करते हैं, परमेश्वर के उन नहीं। परमेश्वर को अब खजाना की आवश्यकता नहीं है, वह पहले से ही उनके पास है।


दूसरा: आपको समझना चाहिए कि परमेश्वर का काम करना एक बलिदान है। परमेश्वर ने स्वयं हमें बचाने के लिए अपने इकलौते पुत्र का बलिदान करने का फैसला किया। यीशु, परमेश्वर के इकलौते बेटे ने हमारे लिए खुद को कुर्बान कर दिया, ताकि हमारे पास वह शाश्वत सुख हो जो दुख के इस सांसारिक जीवन के बाद हमें इंतजार कर रहा है। और परमेश्वर के प्रत्येक सच्चे बच्चे को भी अपने गुरु यीशु मसीह की महिमा के लिए खुद को बलिदान करना चाहिए, और उन सभी के उद्धार के लिए जिनके लिए यीशु मरने आए थे।


तीसरा: यह अत्यावश्यक है कि आप यह समझें कि आप परमेश्वर की सेवा करके उसका कोई उपकार नहीं करते हैं, और यह कि आप  परमेश्वर का काम करके परमेश्वर के सेवक पर कोई उपकार नहीं करते हैं। तुम परमेश्वर की सेवा करके अपने आप को एक बड़ा एहसान कर रहे हो। परमेश्वर की सेवा करना सौभाग्य की बात है। जब आप परमेश्वर का काम करना चाहते हैं तो परमेश्वर और परमेश्वर के सेवक को ब्लैकमेल करना बंद कर दें। यदि आप परमेश्वर की सेवा नहीं करना चाहते हैं, तो ऐसा न करें। यदि आपको मानते है कि तुम परमेश्वर या उनके सेवक के लिए, परमेश्वर का काम कर रही द्वारा किसी भी एहसान कर रहे हैं, यह अब और नहीं करते।


मेरे पास आपके लिए एक महत्वपूर्ण रहस्योद्घाटन है। यह इस है: "क्या तुम परमेश्वर के लिए काम करते हैं, या आप काम नहीं करते, परमेश्वर का काम किया जाएगा। चाहे आप परमेश्वर की सेवा करें, या आप उसकी सेवा करने से इंकार करें, परमेश्वर की सेवा की जाएगी। न तो कोई व्यक्ति और न ही कुछ भी परमेश्वर के काम को रोक सकता है।" इसलिए ब्लैकमेल बंद करो, यह बेकार है।


आपके जन्म से पहले, परमेश्वर का काम किया जा रहा था, और आपके बाद, परमेश्वर का काम किया जाएगा। परमेश्वर जरूरी उसका काम के लिए आप की जरूरत नहीं है। आप के साथ या बिना, उसका काम किया जाएगा। आप निश्चित रूप से परमेश्वर के काम के लिए महत्वपूर्ण हैं यदि आप अपने आप को उपयोगी बनाने के लिए चुनते हैं, लेकिन आप अपरिहार्य नहीं हैं, और आप कभी नहीं होंगे। कोई भी अपरिहार्य नहीं है।


इस मार्ग पर मेरे साथ ध्यान करें मालाची 1:6, 8; 13-14: "6पुत्र पिता का, और दास स्वामी का आदर करता है। यदि मैं पिता हूं, तो मेरा आदर मानना कहां है? और यदि मैं स्वामी हूं, तो मेरा भय मानना कहां? सेनाओं का यहोवा, तुम याजकों से भी जो मेरे नाम का अपमान करते हो यही बात पूछता है। परन्तु तुम पूछते हो, हम ने किस बात में तेरे नाम का अपमान किया है? 8जब तुम अन्धे पशु को बलि करने के लिये समीप ले आते हो तो क्या यह बुरा नहीं? और जब तुम लंगड़े वा रोगी पशु को ले आते हो, तो क्या यह बुरा नहीं? अपने हाकिम के पास ऐसी भेंट ले आओ; क्या वह तुम से प्रसन्न होगा वा तुम पर अनुग्रह करेगा? सेनाओं के यहोवा का यही वचन है॥ 13... और अत्याचार से प्राप्त किए हुए और लंगड़े और रोगी पशु की भेंट ले आते हो! क्या मैं ऐसी भेंट तुम्हारे हाथ से ग्रहण करूं? यहोवा का यही वचन है। 14जिस छली के झुण्ड में नरपशु हो परन्तु वह मन्नत मान कर परमेश्वर को बर्जा हुआ पशु चढ़ाए, वह शापित है; मैं तो महाराजा हूं, और मेरा नाम अन्यजातियों में भययोग्य है, सेनाओं के यहोवा का यही वचन है॥"


इस मार्ग में परमेश्वर क्या कहता है?


प्रभु आपको यहाँ प्रकट करते हैं कि वह केवल उन भेंट में आनंद लेता है जो हमें कुछ खर्च करते हैं और जो हमारे लिए बलिदान का गठन करते हैं। जब आप परमेश्वर के लिए क्या तुम प्रिय लागत है की पेशकश करने के लिए तैयार नहीं हैं, तुम उसे प्यार नहीं करते। जब आप परमेश्वर को केवल क्या तुम चोरी हो गए हैं, या क्या आप एकत्र किया है, या जो आपके किसी काम का नहीं है, की पेशकश करने के लिए जल्दी कर रहे हैं, तो तुम परमेश्वर का मज़ाक उड़ाते हो। वह ऐसे भेंट को स्वीकार नहीं करता।


परमेश्वर ने हमें बचाने के लिए एक कमजोर मेमना, या एक रोगी भेड़, या कोई स्वर्गदूत, नहीं भेजा, उसने अपने इकलौते पुत्र को भेजा, जो उसे सबसे प्रिय था। यह एक सच्चा बलिदान है, और यह उस तरह की भेंट है जिसे परमेश्वर ने हमारे लिए बनाने के लिए चुना है। बदले में हमें उसे भेंट क्यों बनाना पड़ता है जिसका कोई मूल्य नहीं है? बदले में हमें परमेश्वर को उन बलिदान क्यों देनी पड़ती है जिन्होंने हमें कुछ भी नहीं खर्च किया है? परमेश्वर उन्हें स्वीकार नहीं करेंगे।


1इतिहास 21:24 "राजा दाऊद ने ओर्नान से कहा, सो नहीं, मैं अवश्य इसका पूरा दाम ही देकर इसे मोल लूंगा; जो तेरा है, उसे मैं यहोवा के लिये नहीं लूंगा, और न सेंतमेंत का होमबलि चढ़ाऊंगा।" इसलिए यदि आप परमेश्वर के लिए काम करना चाहते हैं, तो आपको अपना दिल, अपना उत्साह और अपने सभी साधनों को उसमें लगाना होगा। यह मत कहो कि तुम परमेश्वर के लिए काम करना चाहते हो, और किसी को तुम्हारी ज़रूरत की हर चीज़ देने के लिए रुको। यह है एक अंधे जानवर की पेशकश करना चाहता है परमेश्वर के लिए एक बलिदान के रूप में, यह है उसे एक अपंग या रोगग्रस्त जानवर की पेशकश करना चाहता है, यह है प्रभु को पेश करना चाहता है कि आपका क्या नहीं है, जो आपको कुछ भी खर्च नहीं करता है। परमेश्वर के हर सच्चे सन्तान को परमेश्वर की सेवा करने के लिए जल्दी करना चाहिए, क्योंकि यह परमेश्वर की सेवा करने के लिए एक महिमा है के लिए


आज आपको कई कपटी मिलते हैं, परमेश्वर के तथाकथित सन्तान, जो, जब वे नए जोड़े महंगे जूते, या नए असाधारण कपड़े खरीदना चाहते हैं ताकि देखा जा सके, या ट्रेंडी सेल फोन, और अन्य ज़रूरत से ज़्यादा है और कभी कभी अनावश्यक उपकरणों, वे पैसे से बाहर चला कभी नहीं। लेकिन जैसे ही परमेश्वर का काम करना आवश्यक होता है, वे पूछते हैं कि उन्हें खरीदा जाए, या उन्हें उपलब्ध कराया जाए, जिसे वे कार्य सामग्री कहते हैं; अन्य लोग पूछते हैं कि वे थोड़ी अभिप्रेरणा कहते हैं। वे प्रभु को केवल वही प्रस्तुत करने के लिए तैयार हैं जो उनका नहीं है


तुम्हारे लिए, कपटी, जो परमेश्वर के सन्तानों के रूप में अपने आप को पारित, लेकिन जो भुगतान किया हो रही बिना परमेश्वर के लिए कुछ भी नहीं कर सकते, याद रखें कि यह यीशु मसीह के स्वर्ग में नहीं है कि आप ऐसे दुष्ट दिल के साथ प्रवेश करेंगे। तुम नरक के रास्ते पर हो। खुद को धोखा देना बंद करें। आपका दिल लोभ और हर तरह की वासना से भरा हुआ है। आप इसे व्यक्तिगत लाभ के लिए एक अवसर बनाने के लिए, आप के लिए उपलब्ध हर छोटी अवसर का फायदा उठाने के लिए चाहते हैं। लोभियों, मन फिराओ!


जब तुम घमंड की वस्तुओं को खरीदने के लिए कभी पैसे से बाहर नहीं निकलते हैं, जब आपके पास हमेशा उन चीजों के लिए पैसा होता है जो आपके लिए महत्वपूर्ण होते हैं, और तुम्हारे पास केवल तभी कोई साधन नहीं होता जब यह परमेश्वर का काम करने के लिए आता है, जब हर बार जब आप अपनी खुद की बातें करने के लिए समय है, और आप समय नहीं है केवल जब आप परमेश्वर के काम करना है, आप उन लोगों में से एक हैं जिनके झुंड में एक नर है, और जो एक कमजोर जानवर को परमेश्वर को समर्पित और बलिदान करते हैं। आप धोखेबाज हैं, असली चोर हैं।


प्रभु ने आपके लिए खुद को बलिदान नहीं किया ताकि आप निस्वार्थ भाव से उनकी सेवा न कर सकें। यदि परमेश्वर ने हमारे लिए अपने इकलौते पुत्र का त्याग करने से पहले हमसे कोई सामग्री या कोई मुआवजा की अपेक्षा की, तो उसने ऐसा कभी नहीं किया होगा। और अगर परमेश्वर के पुत्र ने हमसे किसी भी सामग्री की अपेक्षा की, या किसी भी छोटी अभिप्रेरणा; हमारे लिए मरने के लिए आने से पहले, वह कभी नहीं आया होगा। यह सच्चा प्यार है। तुम परमेश्वर से प्यार करने का नाटक नहीं कर सकते, और भुगतान किया जा रहा बिना उसके लिए कुछ भी करने में असमर्थ हो, या विनती की जा रही बिना।


निष्कर्ष: यदि आप परमेश्वर के काम करने के लिए भुगतान किया जाना चाहते हैं, यह मत करो। यदि आप चाहते हैं कि आपको परमेश्वर के काम करने के लिए काम के उपकरण और छोटे अभिप्रेरणा दिए जाएं, तो ऐसा न करें। अगर आप चाहते हैं कि कोई आपसे परमेश्वर का काम करने की भीख मांगे तो ऐसा न करें। तुम्हारे साथ या तुम्हारे बिना, परमेश्वर का कार्य किया जाएगा। मैं किसी भी मनुष्य को परमेश्वर का काम करने के लिए भ्रष्ट नहीं करूंगा। जिस दिन परमेश्वर का काम करने के लिए और पुरुष नहीं होंगे, प्रभु इसे करने के लिए पत्थर भी उठाएगा।


3- परमेश्वर के काम में तोड़फोड़ करने वालों को संदेश


तुम्हारे पास परमेश्वर के तथाकथित सन्तानों भी हैं, जो परमेश्वर के काम को करना स्वीकार करते हैं, लेकिन जो स्वेच्छा से परमेश्वर के काम को तोड़-फोड़ करना चुनते हैं। इसका मतलब है कि ये लोग स्वेच्छा से चुनते हैं, या तो काम को अधूरे तरीके से करते हैं, या जानबूझकर और स्वेच्छा परमेश्वर के काम में गलतियों को सम्मिलित करने के लिए, या काम में जोड़ने के लिए, क्या मौजूद नहीं है। जान लें कि यह गलती बहुत गंभीर है। यह पवित्र आत्मा के खिलाफ निन्दा से अलग नहीं है। चाहे वह वे लोग हों जो स्वेच्छा से परमेश्वर के लोगों को झूठ सिखाते हैं, या जो जानबूझकर परमेश्वर के काम में तोड़फोड़ करते हैं, उद्देश्य जानबूझकर लोगों को परमेश्वर से दूर करना है; उद्देश्य उन लोगों को जानबूझकर गुमराह करना है जो परमेश्वर की तलाश करते हैं। परमेश्वर तुम्हें इस बात के लिए कभी माफ नहीं करेगा। कभी नहीं। इस संदेश को उन सभी शैतान एजेंटों के लिए स्पष्ट होने दें जो इस तरह के जोखिम लेते हैं। आपका नरक आपकी दुष्टता के आनुपातिक होगा।


4- उन लोगों के लिए संदेश जो परमेश्वर के काम के लिए अभिप्रेरित नहीं हैं


तुम लोगों के लिए जो परमेश्वर के काम के लिए अभिप्रेरित नहीं हैं, जानते हैं कि यह आपका अपना आशीषें है जिसे आप तुच्छ समझते हैं। आप निष्चितरूप से एसाव हैं। आशीषें अभी तक आप के लिए कुछ भी मतलब नहीं है। समय आ जाता है जब ये आशीषें आपके लिए कुछ अर्थ करेंगे, लेकिन बहुत देर हो जाएगी। आज आप जो आशीषें तुच्छ समझेंगे, वही आप आने वाले दिनों में आंसुओं से तलाश करेंगे, लेकिन व्यर्थ में। ध्यान रखें कि आप पृथ्वी को किसी भी चीज़ के साथ नहीं छोड़ेंगे। कुछ भी है कि बनाने के लिए लगता है अपनी खुशी या अपने गर्व अब, आप इसे आने वाले दिनों में स्वेच्छा से या नहीं छोड़ देंगे। कुछ भी नहीं तुम्हारे साथ पृथ्वी छोड़ देंगे। कुछ भी नहीं। यहां तक कि अगर आप विपरीत चाहते हैं।


हमें नीचे बाइबिल मार्ग पर ध्यान:


उत्पत्ति 25:29-34 "29याकूब भोजन के लिये कुछ दाल पका रहा था: और ऐसाव मैदान से थका हुआ आया। 30तब ऐसाव ने याकूब से कहा, वह जो लाल वस्तु है, उसी लाल वस्तु में से मुझे कुछ खिला, क्योंकि मैं थका हूं। इसी कारण उसका नाम एदोम भी पड़ा। 31याकूब ने कहा, अपना पहिलौठे का अधिकार आज मेरे हाथ बेच दे। 32ऐसाव ने कहा, देख, मैं तो अभी मरने पर हूं: सो पहिलौठे के अधिकार से मेरा क्या लाभ होगा? 33याकूब ने कहा, मुझ से अभी शपथ खा: सो उसने उससे शपथ खाई: और अपना पहिलौठे का अधिकार याकूब के हाथ बेच डाला। 34इस पर याकूब ने ऐसाव को रोटी और पकाई हुई मसूर की दाल दी; और उसने खाया पिया, तब उठ कर चला गया। यों ऐसाव ने अपना पहिलौठे का अधिकार तुच्छ जाना॥"


इब्रानियों 12:15-17 "15और ध्यान से देखते रहो, ऐसा न हो, कि कोई परमेश्वर के अनुग्रह से वंचित रह जाए, या कोई कड़वी जड़ फूट कर कष्ट दे, और उसके द्वारा बहुत से लोग अशुद्ध हो जाएं। 16ऐसा न हो, कि कोई जन व्यभिचारी, कष्ट ऐसाव की नाईं अधर्मी हो, जिस न एक बार के भोजन के बदले अपने पहिलौठे होने का पद बेच डाला17तुम जानते तो हो, कि बाद को जब उस ने आशीष पानी चाही, तो अयोग्य गिना गया, और आंसू बहा बहाकर खोजने पर भी मन फिराव का अवसर उसे न मिला॥"


मुझे समझाते हैं कि एसाव कौन हैं। एसाव ऐसे लोगों हैं जो केवल वर्तमान के बारे में सोचते हैं। भविष्य उनके लिए कोई मायने नहीं रखता। उनके लिए जो मायने रखता है वह वर्तमान, अभी है। सब वे चाहते है कि वे क्या उनकी आँखों से अब देखते हैं। भविष्य आशीषें के बारे में उनसे बात करने के लिए थोड़ा मूर्ख है। वे उस चीज में दिलचस्पी नहीं रखते हैं जो वे नहीं देखते हैं। जब उन्हें प्रोत्साहित किया जाता है कि वे परमेश्वर के काम को उत्साहपूर्वक करें, उन्हें याद दिलाएं कि मुकुट परमेश्वर के सच्चे सिपाहियों का इंतजार कर रहा है, वे एसाव की तरह अपने आप से कहते हैं कि मेरे लिए मुकुट का उपयोग क्या है? वह समय आ रहा है जब वे आंसुओं के साथ इस मुकुट की तलाश करेंगे, लेकिन उनके मन फिराव का कोई असर नहीं होगा। जब एसाव ने आशीष को तुच्छ जाना, उसने सिर्फ वर्तमान के बारे में सोचा, उसने कल्पना नहीं की कि भविष्य आएगा। भविष्य आ गया है, यह एक और वर्तमान बन गया, एक और अब, लेकिन एक अब जो उसकी पहुंच से बाहर था।


यिर्मयाह 48:10 "शापित है वह जो यहोवा का काम आलस्य से करता है; और वह भी जो अपनी तलवार लोहू बहाने से रोक रखता है।" न केवल आपको प्रभु के काम करने के लिए प्रतिबद्ध होना चाहिए, आपको इसे लापरवाही के बिना करना चाहिए।


5- उन लोगों को संदेश जो परमेश्वर का काम को करने से मना करते हैं


तुम सब के लिए जो परमेश्वर के काम करने से मना, पता है कि परमेश्वर ने तुम्हें उसकी सेवा करने के लिए, अपने काम करने के लिए बनाया। एक बार और सभी के लिए याद रखें कि परमेश्वर का काम करना आपके लिए एक विकल्प नहीं है, बल्कि एक दायित्व है। यदि आप जिद्दी होना चाहते हैं, तो स्वतंत्र महसूस करें, और आप इसे अगले कुछ दिनों में समझ जाएंगे।


मत्ती 25:24-30 "24तब जिस को एक तोड़ा मिला था, उस ने आकर कहा; हे स्वामी, मैं तुझे जानता था, कि तू कठोर मनुष्य है, और जहां नहीं छीटता वहां से बटोरता है। 25सो मैं डर गया और जाकर तेरा तोड़ा मिट्टी में छिपा दिया; देख, जो तेरा है, वह यह है। 26उसके स्वामी ने उसे उत्तर दिया, कि हे दुष्ट और आलसी दास; जब यह तू जानता था, कि जहां मैं ने नहीं बोया वहां से काटता हूं; और जहां मैं ने नहीं छीटा वहां से बटोरता हूं। 27तो तुझे चाहिए था, कि मेरा रुपया सर्राफों को दे देता, तब मैं आकर अपना धन ब्याज समेत ले लेता। 28इसलिये वह तोड़ा उस से ले लो, और जिस के पास दस तोड़े हैं, उस को दे दो। 29क्योंकि जिस किसी के पास है, उसे और दिया जाएगा; और उसके पास बहुत हो जाएगा: परन्तु जिस के पास नहीं है, उस से वह भी जो उसके पास है, ले लिया जाएगा। 30और इस निकम्मे दास को बाहर के अन्धेरे में डाल दो, जहां रोना और दांत पीसना होगा।"


क्या तुम जानते हो कि परमेश्वर तुम्हें अपने कार्य को करने से मना करने के लिए नरक में क्यों भेजेगा? मैं आपको यह समझाता हूं: आपके पास जो भौतिक शक्ति है, वह परमेश्वर है जिसने आपको दिया है। आपके पास जो स्वास्थ्य है वह परमेश्वर है जिसने आपको दिया था। आपके पास जो ज्ञान है वह परमेश्वर है जिसने तुम्हें दिया था। आपके पास जो समझ है वह परमेश्वर है जिसने इसे आपको दिया था। और उसने आपको यह सब काम करने वाले उपकरण के रूप में दिया, उसकी सेवा करने के लिए। इसलिए यदि आप काम के लिए उपकरण लेते हैं, और काम करने से इनकार करते हैं, तो आप जानते हैं कि आपको क्या इंतजार है: अनन्त पीड़ा में रोना और दांत पीसना। आपके पास विकल्प है।


6- उन लोगों को संदेश जो खुशी के साथ परमेश्वर का काम करते हैं


आप सभी के लिए जो अपने पूरे मन से प्रभु से प्रेम करते हैं, जो प्रभु से डरते हैं, और जो उत्साह के साथ, खुशी के साथ, त्याग के साथ, और पूरी तरह से निस्वार्थ तरीके से परमेश्वर के लिए काम करते हैं, पता है कि तुम अपना समय बर्बाद नहीं कर रहे हैं। ये तुम्हारा आशीर्वाद है कि तुम जमा कर रहे हैं। तुम स्वर्ग के राज्य में अपना घर बना रहे हो। आप स्वर्ग में अनन्त खजाने को इकट्ठा कर रहे हैं, जहां न तो कीड़ा, और न काई बिगाड़ते हैं, और जहां चोर न सेंध लगाते और न चुराते हैं। मत्ती 6:19-20। अंत तक दृढ़ रहें, और आपको इसका पछतावा नहीं होगा।


हमें नीचे बाइबिल मार्ग पर ध्यान:


2यूहन्ना 1:8 "अपने विषय में चौकस रहो; कि जो परिश्रम हम ने किया है, उस को तुम न बिगाड़ो: वरन उसका पूरा प्रतिफल पाओ।"


1कुरिन्थियों 2:9 "परन्तु जैसा लिखा है, कि जो आंख ने नहीं देखी, और कान ने नहीं सुना, और जो बातें मनुष्य के चित्त में नहीं चढ़ीं वे ही हैं, जो परमेश्वर ने अपने प्रेम रखने वालों के लिये तैयार की हैं।"


आइए इस छोटे से कोरस को गुनगुनाते हैं जो कहता है: "स्वर्ग सुंदर और अद्भुत है, स्वर्ग सुंदर और शानदार है!"


7- अंतिम चेतावनी


तुम लोग जो हर बार हमसे यह कहने के लिए संपर्क करते हैं कि आप परमेश्वर के काम में शामिल होना चाहते हैं, और जब आपको यह अवसर दिया जाता है, तो आप तथाकथित कार्य उपकरण और अन्य प्रकार की सहायता मांगकर अपने दिलों की वासनाओं को तृप्त करने के लिए चालें का उपयोग करते हैं; इसे आखिरी बार होने दो। हम यहां मस्ती करने के लिए नहीं हैं। हम यहाँ परमेश्वर के लिए काम करने के लिए कर रहे हैं, और यह खुशी के साथ करने के लिए। हमें किसी के द्वारा भुगतान नहीं मिलता है, और हम लालची पाखंडियों का समर्थन नहीं करते हैं जो हमें काम करने के लिए नहीं, बल्कि उनके लालच को संतुष्ट करने के लिए संपर्क करते हैं। हम परमेश्वर के कार्य को करने के लिए किसी को रिश्वत देने के लिए तैयार नहीं हैं, न ही परमेश्वर के कार्य को करने के लिए किसी को भुगतान करने के लिए। हम कार्य टीम में स्वीकार करने के लिए तैयार हैं, सभी जो प्रभु यीशु मसीह को पूरे मन से प्यार करते हैं, जो उससे डरते हैं, और जो उत्साह के साथ परमेश्वर के लिए काम करने के लिए तैयार कर रहे हैं, आनन्द के साथ, त्याग के साथ, और एक पूरी तरह से निस्वार्थ तरीके से। आप उन लोगों में से एक हैं, तो हमसे संपर्क करने के लिए स्वतंत्र महसूस हो रहा है। अन्यथा, हमें विचलित नहीं है।


जो हमारे प्रभु यीशु मसीह से सच्चा प्रेम रखते हैं, उन सब पर अनुग्रह होता रहे

 

निमंत्रण

 

प्रिय भाइयों और बहनों,

 

यदि आप झूठे कलीसियाओं से भाग गए हैं और जानना चाहते हैं कि आपको क्या करना चाहिए, तो यहां आपके लिए दो समाधान उपलब्ध हैं:

 

1- देखें कि क्या आपके आस-पास परमेश्वर के कुछ अन्य सन्तानों हैं जो परमेश्वर से डरते हैं और खरे उपदेश अनुसार जीना चाहते हैं। यदि आपको कोई मिल जाए, तो बेझिझक उनसे जुड़ें।

 

2- यदि आप एक नहीं पाते हैं और हमसे जुड़ना चाहते हैं, तो हमारे दरवाजे आपके लिए खुले हैं। केवल एक चीज जो हम आपसे करने के लिए कहेंगे, वह यह है कि पहले उन सभी शिक्षाओं को पढ़ें जो प्रभु ने हमें दी हैं, और जो हमारी वेबसाइट पर हैं www.mcreveil.org, अपने आप को आश्वस्त करने के लिए कि वे बाइबल के अनुरूप हैं। यदि आप उन्हें बाइबल के अनुरूप पाते हैं, और यीशु मसीह के अधीन होने के लिए तैयार हैं, और उसके वचन की आवश्यकताओं के अनुसार जीते हैं, तो हम खुशी के साथ आपका स्वागत करेंगे।

 

प्रभु यीशु मसीह का अनुग्रह तुम पर होता रहे।

 

स्रोत और संपर्क:

वेबसाइट: https://www.mcreveil.org
ई-मेल: mail@mcreveil.org

इस पुस्तक को पीडीएफ में डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें।